हनीप्रीत ने गुफा में बिताई रात, जेल से बाहर आते ही किए ये काम

डेरा सच्चा सौदा चीफ की खासमखास और राजदार हनीप्रीत उर्फ प्रियंका तनेजा जमानत मिलने के बाद बुधवार देर रात डेरा सच्चा सौदा पहुंची थी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

नई दिल्ली: डेरा सच्चा सौदा चीफ की खासमखास और राजदार हनीप्रीत उर्फ प्रियंका तनेजा जमानत मिलने के बाद बुधवार देर रात डेरा सच्चा सौदा पहुंची थी। 4 गाडिय़ों के काफिले में आई हनीप्रीत पंजाब नम्बर की फाच्र्यूनर गाड़ी में सवार थी। हनीप्रीत ने गुफा में ही रात बिताई। इससे पहले हनीप्रीत ने डेरे के सेवादारों से बात भी की थी। वीरवार सुबह वह शाह सतनामपुरा स्थित अपनी कोठी में गई। यहां उन्होंने डेरा मैनेजमैंट कमेटी के सदस्यों से मुलाकात की। उनके साथ कई अहम मुद्दों पर चर्चा की। इस दौरान हनीप्रीत के पारिवारिक सदस्य भी उनके साथ थे। डेरा प्रमुख के परिजनों संग हनीप्रीत की मुलाकात हुई या नहीं, इस बारे में पता नहीं चल पाया। इस दौरान हनीप्रीत ने मीडिया से दूरी बनाए रखी। दिनभर डेरे के बाहर मीडिया कर्मियों का जमावड़ा लगा रहा।

गुरुवार सुबह से हनीप्रीत ने कराए ये तीन काम
राम रहीम और हनीप्रीत के जेल जाने के बाद से आमतौर पर शांत दिखाई देने वाले डेरा में गुरुवार सुबह से काफी चहल-पहल थी। डेरे में बने चर्चा घर में रंग-रोगन का काम चल रहा है। आगामी रविवार को यहां समागम की तैयारी की जा रही है। माना जा रहा है कि हनीप्रीत भी इस कार्यक्रम में शामिल होगी। वहीं डेरे के खास लोगों से हनीप्रीत लगातार मुलाकात कर रही है। ऐसा कहा जा रहा है कि हनीप्रीत एक बार फिर से डेरे का पूरा कंट्रोल अपने हाथ में लेना चाहती है।

डेरा प्रमुख ने करवाया था विवाह
करनाल के घरौंडा से ताल्लुक रखने वाले पूर्व विधायक रुलिया राम गुप्ता के पोते विश्वास के साथ हनीप्रीत का विवाह डेरा में ही 14 फरवरी 1999 को करवा दिया गया। 1972 में रुलिया राम गुप्ता घरौंडा से नैशनल कांग्रेस आर्गेनाइजेशन के विधायक रहे थे। उनका परिवार शाह सतनाम के वक्त से डेरा से जुड़ा था इसीलिए डेरा प्रमुख ने ही रुलिया राम गुप्ता के पोते विश्वास गुप्ता के साथ हनीप्रीत का विवाह करवा दिया। शुरू से ही यह विवाह विवादों में रहा।

पिता का था टायरों का कारोबार
हनीप्रीत का पूरा परिवार डेरे में आस्था रखता था। हनीप्रीत के पिता रामानंद तनेजा पहले एम.आर.एफ. टायर्स का शोरूम चलाते थे,जिसका नाम सच टायर्स था,लेकिन बाद में उन्होंने डेरे में ही एक बड़ा सीड प्लांट शुरू कर लिया। हनीप्रीत की एक छोटी बहन है नीशु तनेजा,जिसकी शादी गुरुग्राम में हुई थी। नीशु की शादी में राम रहीम का खास योगदान था। इसी तरह से हनीप्रीत के चाचा अभी भी सिरसा के परशुराम चौक पर एम.आर.एफ. टायर का शोरूम चलाते हैं। उसके मामा और कई रिश्तेदार सिरसा के मुख्य मार्गों पर कारोबार करते हैं। हनीप्रीत के नाम पर डेरे के अंदर एक बुटीक भी था। उसके पिता रामानंद तनेजा डेरा की पर्चेजिंग कमेटी के हैड रहे। बाजार का सारा लेन-देन उनके जिम्मे ही था।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...

महिला डॉक्टर को 10 दिन में मिला इंसाफ, पिता बोले- अब मेरी बेटी की आत्मा को मिलेगी शांति     |     रामजन्मभूमि पर फैसले के खिलाफ मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड सुप्रीम कोर्ट में आज दाखिल करेगा रिव्यू पिटीशन     |     प्याज की कीमतों पर सरकार का मंथन, गृहमंत्री की अध्यक्षता में मंत्री समूह की बैठक     |     सोमवार को संसद में पेश होगा नागरिकता संशोधन विधेयक, भाजपा ने जारी किया व्हिप     |     नाराज सीएम गहलोत ने 9 अधिकारियों को किया सस्पेंड, 3 को थमाई चार्जशीट     |     दिल्ली लाई गई उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता, एयरपोर्ट से सफदरजंग तक बनाया गया ग्रीन कॉरिडोर     |     महिला सुरक्षा पर मोदी सरकार का बड़ा फैसला, देशभर के सभी थानों में बनेंगी महिला हेल्प डेस्क     |     हैदराबाद गैंगरेपः सीन रिक्रिएट करने के लिए NH-44 पर आरोपियों को ले गई थी पुलिस, भागने की कोशिश में एनकाउंटर     |     हैदराबाद गैंगरेप: जहां महिला डॉक्टर के साथ की दरिंदगी, पुलिस ने चारों आरोपियों का वहीं किया एनकाउंटर     |     ‘बांटो और राज करो’ की नीति छोड़ अर्थव्यवस्था पर ध्यान दे मोदी सरकार: ममता     |