डांसिंग कॉप रणजीत सिंह का व्यवहार सुधारने के लिए करवाया जाएगा योग

इंदौर यातायात पुलिस के डांसिग कॉप रणजीत सिंह को आखिरकार पुलिस अधिकारियों ने जांच में बचा लिया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

इंदौर। इंदौर यातायात पुलिस के डांसिग कॉप रणजीत सिंह को आखिरकार पुलिस अधिकारियों ने जांच में बचा लिया। उन्हें निंदा और चेतावनी देकर छोड़ दिया गया जबकि आचरण सुधारने के लिए उन्हें योग भी करवाया जाएगा। एसपी (मुख्यालय) सूरज वर्मा ने बताया कि सोमवार को हुए इस घटनाक्रम की जांच एएसपी ट्रैफिक पश्चिम रणजीत सिंह देवके ने की थी। इसकी रिपोर्ट उन्होंने मुझे सौंपी थी। रिपोर्ट के अनुसार, मामले में दोनों के बयान लिए गए थे। इसमें रणजीत ने गलती होने और ऑटो चालक ने भी खुद की गलती की बात स्वीकार की थी। फुटेज में भी झूमाझटकी ही दिख रही थी। इसलिए मामले में रणजीत को निंदा की सजा और चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है। आचरण सुधारने के लिए उन्हें योग करवाने के लिए भी कहा गया है।

यह है पूरा मामला : पिछले दिनों ट्रैफिक पुलिसकर्मी रणजीत सिंह का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। जिसमें वो एक ऑटो चालक को पीटते हुए नजर आ रहे थे। वीडियो में नजर आया कि रणजीत ने ऑटो चालक के बाल पकड़े और लात भी मारी। इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने इस मामले की जांच के आदेश देते हुए ट्रैफिम पुलिसकर्मी रणजीत को हाईकोर्ट चौराहे की ड्यूटी से हटा दिया था। इसके बाद ऑटो रिक्शा चालक संघ ने सख्त कार्रवाई करने के लिए प्रदर्शन भी किया था। इसमें यह भी सामने आया था कि गलती ऑटो चालक की थी क्योंकि वह गलत दिशा से आ रहा था, लेकिन रणजीत ने उस पर कार्रवाई करने की बजाए उसकी पिटाई कर दी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...

महिलाओं ने बाइक पर सवार होकर की 21 देशों की सफल यात्रा, कठिन चुनौतियों के बाद भी डिगा नहीं फैसला     |     CJI शरद अरविंद बोबडे ने कहा, बदले की भावना से किया गया इंसाफ न्‍याय नहीं     |     उन्नाव की बिटिया की मौत पर यूपी में सियासी बवाल, कांग्रेस ने घेरा भाजपा मुख्यालय; पुलिस ने फटकारी लाठी     |     दर्द से कराहती उन्नाव पीड़िता की हालत देख रो पड़े थे सारे डॉक्टर     |     SC पहुंचा हैदराबाद एनकाउंटर मामला, वकीलों ने पुलिस के खिलाफ दायर की याचिका     |     जिंदगी की जंग हार गई उन्नाव बलात्कार पीड़िता, आखिरी शब्द थे- बच तो जाऊंगी न, मरना नहीं चाहती     |     उन्नाव रेप पीड़िता की मौत के बाद भाई ने मांगा न्याय, कहा- बहन की तरह आरोपियों को भी जिंदा जलाओ     |     उन्नाव कांड: प्रियंका बोलीं- हमारी नाकामयाबी, पीड़िता को नहीं मिला न्याय     |     महिला डॉक्टर को 10 दिन में मिला इंसाफ, पिता बोले- अब मेरी बेटी की आत्मा को मिलेगी शांति     |     रामजन्मभूमि पर फैसले के खिलाफ मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड सुप्रीम कोर्ट में आज दाखिल करेगा रिव्यू पिटीशन     |